Root canal treatment kya hota hai |root canal treatment in hindi |रुट कैनाल |

Procedure : A root canal is a treatment used to repair and save a tooth that is badly decayed or becomes infected. During a root canal procedure, the nerve and pulp are removed and the inside of the tooth is cleaned and sealed. Without treatment, the tissue surrounding the tooth will become infected and abscesses may form.

बीते जमाने में दाँत खोखले होने पर निकालने के सिवा कोई चारा नहीं होता था। आज दंत चिकित्सा विज्ञान ने बहुत तरक्की कर ली है। अब खोखले दाँतों को बचाना आसान हो गया है। रूट कैनाल ट्रीटमेंट मूल दाँतों को बचाने का तरीका है।
दाँतों की ऊपरी सतह यानी इनेमल पर सड़न हो तो उसे फिलिंग करके ठीक कर लिया जाता है, लेकिन जब सड़न जड़ (पल्प) तक पहुँच जाती है तो मरीज को बेहद दर्द होता है। ऐसे दाँतों को अब रूट कैनाल पद्धति से बचा लिया जाता है, जबकि पहले इन्हें निकाल दिया जाता था। दाँत निकालने का नुकसान यह होता था कि निकले हुए दाँतों के खाली हो चुके स्थान पर आसपास के दाँत खिसकने लगते थे। इससे एक तो मुँह का शेप बिगड़ता था, दूसरे खाना चबाने में तकलीफ होती थी। इसका एक ही उपाय था नकली दाँत लगाना। नकली दाँत भी दो तरीके से लगाए जाते हैं। एक किस्म का नकली दाँत निकल सकने वाला होता है, दूसरे किस्म के नकली दाँत को फिक्स कर दिया जाता है।

प्रत्येक दाँत में एक या एक से अधिक रूट कैनाल होती है। हर कैनाल में पल्प मौजूद रहता है। पल्प के अंदर नाड़ियाँ, खून की नलिकाएँ तथा जोड़ने वाले ऊतक होते हैं। सड़ने के कारण पल्प नष्ट हो जाता है जिससे असहनीय पीड़ा होती है।

क्या है रूट कैनाल पद्धति ?
सड़े हुए दाँत के ऊपरी हिस्से यानी क्राउन से ड्रिल करके कैनाल को खोल लिया जाता है। इसके साथ पूरा पल्प निकाल लिया जाता है। इसके बाद पूरे कैनाल की हाइड्रोजन पैराक्साइड एवं सोडियम हायपोक्लोराइड से सफाई की जाती है। फिर गटापार्चा फिलर से इसे पूरी तरह भर दिया जाता है। इसके बाद सिल्वर फिलिंग या टूथ कलर फिलिंग से दाँत को सील कर दिया जाता है। दाँत को मजबूती प्रदान करने के लिए रूट कैनाल ट्रीटमेंट के बाद इस पर कैप अथवा क्राउन लगाना आवश्यक होता है। क्राउन नहीं लगाने पर दाँत टूट सकता है।

कितना समय लगता है ?
प्रारंभिक अवस्था में इलाज कराने पर एक अथवा दो सिटिंग में ही इलाज पूरा किया जा सकता है। पहली सिटिंग में ट्रीटमेंट टाइम 30-40 मिनट तक हो सकता है। अगर मरीज की लापरवाह से वहाँ संक्रमण हो जाए तो 4 से 5 सिटिंग लग सकती हैं।

आधुनिक उपकरण
दंत चिकित्सा विज्ञान के आधुनिक उपकरणों ने जहाँ मरीजों की पीड़ा को कम किया है वहीं दंत चिकित्सक का काम भी आसान कर दिया है। वायरलेस डिजिटल एक्स-रे के उपयोग से रूट कैनाल ट्रीटमेंट अधिक कुशलतापूर्वक और कम समय में किया जा सकता है। मरीज को लैपटॉप पर उसके दाँत का एक्स-रे दिखाया जा सकता है। दाँत का आकार भी इसमें बड़ा और स्पष्ट दिखाई देता है। इससे चिकित्सक का काम भी आसान हो जाता है।

कितना दर्द होता है ?
दंत चिकित्सा में मरीज को कितना कम या ज्यादा दर्द हो रहा है, इसका बड़ा महत्व है। लगभग सभी मरीज रूट कैनाल ट्रीटमेंट में होने वाले दर्द के बारे में जानना चाहते हैं। मरीज को सबसे पहले एंटीबायोटिक्स दिए जाते हैं। इससे मरीज को संक्रमण का जोखिम कम हो जाता है। यदि मरीज को असहनीय दर्द हो तो लोकल एनेस्थेसिया दिया जाता है। अगर इससे भी दर्द न मिटे तो पल्प डिवाइटालाइजर का प्रयोग किया जाता है। इससे मरीज को बिलकुल दर्द महसूस नहीं होता।
Tags:
दांतों में दर्द, danto ki safai, danto ka gap ka ilaj, daant saaf karne ka tarika, daant saaf karne ke upay, daant mein keeda, daant mein sadan, dant ka kida kaisa hota hai, dant ka kida marne ki dawa, दांत में कीड़े का इलाज, danto se khoon ka ilaj, tooth cavity removal, tooth cavity home remedy, toothache home remedies, tooth cavity pain relief home remedy, daant khatte hone ke upay, tooth decay treatment, tooth decay home remedies, how to recover tooth enamel
#myvj *#MYVJ

follow me on instagram and ask questions will answer u directly.. 
INSTA -https://www.instagram.com/myvjvaibhav/

For direct consultation.. 

For more informative videos:
Variety of tooth cap / crown

Root canal treatment in adults,

All about dental implants,

Danton ka pilapan hatane ka ilaj ,

Pyorrhia ka ilaj,

Akal dadh me dard ka ilaj,

Treatment of wisdom tooth,

For more informative videos go through video list

Thank you for watching keep like share and subscribe

Tags:
Root canal treatment in hindi,
रुट कैनाल ट्रीटमेंट क्या होता है।
Rct ,
Dant ke dard la ilaj kya hai,
दांत में दर्द का इलाज क्या है,
दांत के दर्द का घरेलू इलाज|

); ga('send', 'pageview');